Wednesday, October 27, 2021
Bakaiti Ke Chanakya


आर्थिक तंगी में कार में गुजारा कर रहे थे टीचर, पुराने छात्र ने देखा और बदल गई जिंदगी

  कोरोना महामारी से ऐसा कोई भी व्यक्ति या देश नहीं है जो अछूता रह गया हो। कोरोना ने किसी…

By Bakaiti Desk , in दुनिया , at May 9, 2021 Tags: , , , ,


 

कोरोना महामारी से ऐसा कोई भी व्यक्ति या देश नहीं है जो अछूता रह गया हो। कोरोना ने किसी से उसके प्रियजन छीने तो किसी से उसका रोजगार। आज हम जिस व्यक्ति की बात कर रहे हैं जो कोरोना की मार झेल रहे थे।

आर्थिक तंगी की वजह से अपनी कार में रह रहा था टीचर

जिस व्यक्ति के बारे में हम बताने जा रहे हैं उनका नाम जोस हैं वह कैलिफोर्निया के रहने वाले हैं और वह एक टीचर हैं। कोरोना के कारण जोस की जॉब चली गई और नौबत यह आ गई कि इन्हें अपनी कार में ही गुजारा करने को मजबूर होना पड़ा।

आर्थिक तंगी की वजह से अपनी कार में रह रहा था टीचर

बता दें कि कोरोना महामारी के कारण सभी स्कूल बंद हो चुके थे और इसी कारण जोस की नौकरी भी चली गई।जोस गंभीर आर्थिक तंगी का सामना कर रहे थे। ऐसे में इनके आर्थिक तंगी से गुजरते हुए जीवन को वापस सम्हालने का काम जोस के एक स्टूडेंट स्टीवन ने किया है।

आर्थिक तंगी की वजह से अपनी कार में रह रहा था टीचर

स्टीवन बताते हैं कि जब भी काम से बाहर निकलते थे तो अपने टीचर को कार में देखते थे। वे हमेशा अपने टीचर को दिन की शुरुआत कर में करते देखते थे। इसके बाद स्टीवन ने सोच की वे अपने टीचर के लिए कुछ करेंगे। और उन्होंने अपने टीचर की आर्थिक समस्या को दूर करने के लिए एक फंड रेजिंग एकाउंट शुरू किया और इसमें पैसे जमा करना चालू कर दिया।

आर्थिक तंगी की वजह से अपनी कार में रह रहा था टीचर

स्टीवन कहते है कि उनका ध्येय केवल 5 हजार डॉलर एकत्रित करने का था लेकिन इससे 6 गुना अधिक पैसा एकत्रित हो गया। इसके बाद अपने टीचर के 77वे जन्म दिन पर स्टीवन और उसके सभी दोस्तों ने मिल कर अपने टीचर को सरप्राइज बर्थ डे गिफ्ट दिया । जोस ने कभी यह कल्पना भी नही की होगी। स्टीवन ने अपने टीचर के हाथ में 27 हजारे डॉलर का चेक थमा दिया।

आर्थिक तंगी की वजह से अपनी कार में रह रहा था टीचर

इस पर जोस का यही कहना था कि उन्हें यकीन ही नही हो रहा था ।। यह सब उनके लिए बहुत हैरान कर देने वाला था। वहीं स्टीवन ने यह कहा कि किसी की भी सहायता करना उसका सम्मान करने से कम नही है। वो भी ऐसे व्यक्ति की जो बच्चों के जीवन को अच्छा बनाने के लिए निस्वार्थ भाव से प्रयासरत रहते हों।

Comments